नेत्रदान करना बड़ा पुनीत कार्य है -कलेक्टर

ग्वालियर 34वें राष्ट्रीय नेत्रदान पखवाड़े के अंतर्गत नेत्रदान पर सम्मान समारोह का आयोजन रतन ज्योति नेत्रालय में आयोजित किया गया। सम्मान समारोह में नेत्रदान करने वाले नेत्रदाताओं के परिजनों एवं समाज में नेत्रदान हेतु प्रेरित करने वाले समाजसेवियों का सम्मान किया गया। कलेक्टर अनुराग चौधरी के मुख्य आतिथ्य एवं पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन की अध्यक्षता में कार्यक्रम का आयोजन हुआ। कार्यक्रम में रतन ज्योति नेत्रालय के डायरेक्टर डॉण् पुरेन्द्र भसीन एवं डॉण् श्रीमती प्रियम्बदा भसीन विशेष रूप से उपस्थित थे।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कलेक्टर अनुराग चौधरी ने कहा कि नेत्रदान करना बड़ा पुनीत कार्य है। नेत्र दान के क्षेत्र में कार्य करने वाले सभी लोग समाज हित में कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि नेत्रदान के लिए जन जागृति नितांत आवश्यक है। इसके लिए समाज के सभी लोगों को आगे आकर कार्य करना चाहिए। कलेक्टर ने कहा कि नेत्रदान के साथ.साथ ग्रामीण क्षेत्रों में नकली दांत लगवाने और मोतियाबिंद के ऑपरेशन कराने का अभियान भी सभी के सहयोग से चलाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि वृद्धजनों एवं दिव्यांगजनों के हितार्थ चलाए जाने वाले कार्यक्रमों तथा नेत्रदानए रक्तदान जैसे अभियानों में प्रशासन का हर संभव सहयोग उपलब्ध रहेगा।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने कहा कि नेत्रदान महादान है। नेत्रदान के लिए लोगों को तैयार करना एक बड़ा कठिन कार्य है। इस कठिन कार्य को सभी के सहयोग से किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि नेत्रदान के प्रति जन जागरूता फैलाने हेतु व्यापक प्रचार.प्रसार आवश्यक है। नेत्रदान के प्रति जागरूकता के लिए स्कूल, कॉलेज के छात्र.छात्राओं को भी प्रेरित किया जाना चाहिए।
पुलिस अधीक्षक ने कहा कि पुलिस विभाग की ओर से नेत्रदान पखवाड़े के अंतिम दिन 8 सितम्बर को डीआरपी लाईन में एक कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा। इस कार्यक्रम में पुलिस परिवार की ओर से अधिक से अधिक लोगों से नेत्रदान करने के फार्म भरवाने का कार्य भी किया जायेगा।
कार्यक्रम के प्रारंभ में डॉण् पुरेन्द्र भसीन ने नेत्रदान अभियान में किए जा रहे कार्यों तथा ग्वालियर में नेत्रदान की दिशा में हो रहे प्रयासों के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। कार्यक्रम में नेत्रदान करने वाले लोगों के परिजनों और नेत्रदान के लिए लोगों को प्रेरित करने वाले लोगों का शॉल.श्रीफल के साथ सम्मान किया गया। कार्यक्रम का संचालन श्रीमती अनुराधा घोड़के द्वारा किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online