100 रु. में 100 यूनिट बिजली, मिलावट खोरी को रोकने के लिए नया नारा (शुद्ध के लिए युद्ध)- सीएम कमलनाथ

भोपाल. सोमवार को राज्य कैबिनेट ने मध्य प्रदेश अनुसूचित जनजाति साहूकार विधेयक के प्रावधानों में संशोधन का प्रस्ताव पारित कर दिया इसके तहत बगैर लाइसेंस साहूकारी करने पर तीन साल की सजा का प्रावधान किया गया है इसके साथ ही राज्य सरकार ने मदरसों में पढ़ने वालों बच्चें को मिड-डे मील देने का फैसला किया है वहीं ग्रामीण और शहरी उपभोक्ताओं को अब 100 यूनिट बिजली देने का निर्णय भी कैबिनेट बैठक में लिया गया।
संबल योजना के उपभोक्ताओं को इंदिरा ज्योति योजना से अलग किया
जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने कैबिनेट बैठक की जानकारी देते हुए बताया कि इंदिरा ज्योति योजना में संशोधन के प्रस्ताव पर भी निर्णय हो गया। संबल योजना के उपभोक्ताओं को इंदिरा ज्योति योजना से अलग किया जाएगा। इसमें 150 यूनिट बिजली की खपत वाले शहरी और ग्रामीण उपभोक्ता को 100 यूनिट बिजली के सिर्फ 100 रुपए ही देने होंगे इसके ऊपर 50 यूनिट पर सामान्य दर लागू होगी। बीपीएल, एपीएल, एससी-एसटी, ओगीसी या कोई और बंधन इस योजना में लागू नहीं होगा।
आदिवासी का कर्ज माफ
सरकार ने आदिवासियों को साहूकारों के कर्ज के बोझ से बचाने के लिए बड़ा कदम उठाया है। आदिवासी परिवार जिन्होंने साहूकारों से कर्ज लिया है उसे माफ किया जाएगा। इसके लिए 15 अगस्त 2019 तक गैर लाइसेंसी साहूकारों ने जो भी कर्ज इन आदिवासियों को दिया है वो शून्य होगा। सीएम कमलनाथ ने 15 अगस्त को छिंदवाड़ा में इस संबंध में घोषणा की थी। यह योजना अनुसूचित क्षेत्रों यानि 89 आदिवासी विकासखंड में लागू होगी।

सरकारी नौकरियों में आयु सीमा 35 से बढ़ाकर 41
बैठक में सामान्य प्रशासन विभग सरकारी नौकरियों में अधिकतम आयु सीमा 35 से बढ़ाकर 41 साल करने का फैसला किया गया है। ये फैसला सीधी भर्तियों और एमपीपीएससी की भर्तियों में लागू होगा। इसके अलावा तिलहन संघ के कर्मचारियों के संविलियन की अवधि को 31 दिसंबर 2019 तक बढ़ाने के प्रस्ताव पर भी मुहर लगी।
पेंशन के लिए मंत्रियों की समिति
मप्र सिविल सेवा (पेंशन) नियम के अधीन मामलों का निराकरण के लिए तीन मंत्रियों की एक समिति बनाई है। सरकार ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 75वीं जयंती को युवा दिवस के लिए रूप में मनाने का निर्णय लिया है। सीएम कमलनाथ मंगलवार को युवाओं से बात करेंगे।
शुद्ध के लिए युद्ध
मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेश में मिलावट खोरी को रोकने के लिए नया नारा (शुद्ध के लिए युद्ध) दिया है। प्रदेश में मिलावट खोरी के खिलाफ चल रही कार्रवाई को दूध और दूध से बने खाद्य पदार्थों के आगे खान-पान और मसालों-दालों में मिलावट खोरी को भी रोका जाएगा। प्रदेश में मिलावट खोरी करने वालों के खिलाफ एनएसए की कार्रवाई भी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online