वीर जवानों के परिजनों से हाल-चाल पूछा, मदद के लिए सदैव तत्‍पर है-डीजीपी

भोपालए पुलिस महानिदेशक विजयकुमार सिंह ने पुलिस ड्यूटी के दौरान अपने प्राणों की आहुति देने वाले चार वीर जवानों के परिजनों से बुधवार को पुलिस मुख्‍यालय के सभाकक्ष में भेंट की। उन्‍होंने एक.एक कर शहीदों के परिजनों का हाल.चाल जाना और उनकी कठिनाईयां व समस्‍याएं सुनीं। साथ ही पुलिस व राज्‍य शासन स्‍तर से मिली सहायता के बारे में जानकारी ली। डीजीपी ने कहा पुलिस उनकी मदद के लिए सदैव तत्‍पर है। श्री सिंह ने परिजनों को भरोसा दिलाया कि उनकी हर समस्‍या का समाधान पूरी शिद्दत के साथ कराया जाएगा। इस अवसर पर अतिरिक्‍त पुलिस महानिदेशक कल्‍याण विजय कटारिया सहित अन्‍य संबंधित अधिकारी मौजूद थे।
वीर जवानों के यह हैं परिजन
सहायक उप निरीक्षक स्‍वर्गीय देवचंद नागले, प्रधानआरक्षक स्‍वर्गीय उमेश बाबू जाटव व आरक्षक स्‍वर्गीय बालमुकुंद प्रजापति के परिजनों को अनुकंपा नियुक्ति दे दी गई है। सहायक उपनिरीक्षक स्‍वर्गीय अमृतलाल भिलाला के सभी पात्र परिजन पूर्व से ही शासकीय सेवा में हैं, उनकी धर्मपत्‍नी को एक करोड़ रूपये की आर्थिक सहायता दी जा चुकी है। इसी तरह स्‍वर्गीय बालमुकुंद प्रजाप‍ति के परिजनों को एक करोड़, स्‍वर्गीय देवचंद नागले के परिजनों को 70 लाख और स्‍वर्गीय उमेश बाबू जाटव के परिजनों को तात्‍कालिक रूप से 15 लाख रूपये की सहायता दी जा चुकी है, शेष आर्थिक सहायता भी मंजूर हो चुकी हैए जिसका जल्‍द भुगतान कर दिया जाएगा।
ज्ञात हो सहायक उप निरीक्षक स्‍वण् अमृतलाल भिलाला जब भोपाल के निशातपुरा थाना क्षेत्र में पॉइंट ड्यूटी के दौरान वाहन चेकिंग कर रहे थे तब एक आरोपी ने उनके ऊपर वाहन चढ़ा दिया था, जिससे अमृतलाल की मृत्‍यु हो गई थी। सहायक उप निरीक्षक स्‍वण् देवचंद नागले की थाना उमरेठ जिला छिंदवाड़ा में पदस्‍थापना के दौरान वारंट तामिल कराते समय एक आरोपी ने धारदार हथियार से हमला कर हत्‍या कर दी थी। प्रधान आरक्षक स्‍वण् उमेश बाबू जाटव जब भिंड जिले के उमरी थाना अंतर्गत दंड प्रक्रिया संहिता का पालन करा रहे थे तभी आरोपी ने गैती मारकर उन्‍हें गंभीर रूप से घायल कर दिया था। दिल्‍ली में इलाज के दौरान उनका निधन हो गया। आरक्षक स्‍वण् बालमुकुंद प्रजापति कोतवाली थाना क्षेत्र छतरपुर के अंतर्गत रात्रिकालीन गश्‍त के दौरान जब असामाजिक तत्‍वों को पकड़ने के लिए पीछा कर रहे थे, तभी एक आरोपी ने उनके ऊपर कट्टे से फायर कर दिया, जिससे उनकी मृत्‍यु हो गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online