रेलवे के कार्यों को तेजी से मूर्तरूप देने के लिये साझा प्लान बनाएं -श्री तोमर

ग्वालियर. रेलवे, जिला प्रशासन, नगर निगम, स्मार्ट सिटी एवं शहर विकास से जुड़े विभागों के अधिकारी आपसी समन्वय बनाकर ऐसा प्लान तैयार करें, जिससे रेलवे का कोई भी विकास कार्य बाधित न हो। यह बात केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्रसिंह तोमर ने कही। रेलवे स्टेशन के आधुनिकीकरण, निर्माणाधीन आरओबी ;रेलवे ओवरब्रिजद्ध व ग्वालियर.श्योपुर नैरोगेज रेलवे लाइन के ब्रॉडगेज में परिवर्तन सहित रेलवे के अन्य विकास कार्यों में तेजी लाने के मकसद से श्री तोमर ने बुधवार को अहम बैठक ली। बैठक में नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्रीमती माया सिंह एवं रेलवे बोर्ड के चेयरमेन श्री अश्विनी लोहानी भी मौजूद थे।
केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर ने कहा कि ग्वालियर रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नम्बर.एक के आधुनिकीकरण की योजना को मूर्तरूप देने के लिये रेलवे, जिला प्रशासन, हाउसिंग बोर्ड एवं नगर निगम के अधिकारी मास्टर प्लान के आधार पर एकीकृत योजना तैयार करें, जिससे सभी काम तेजी से मूर्तरूप ले सकें। इसी तरह प्लेटफॉर्म नंण्.4 की ओर वाले इलाके को विकसित किया जाए। रेलवे बोर्ड के चेयरमेन श्री लोहानी ने बताया कि स्टेशन डवलपमेंट कॉर्पोरेशन की मदद से ग्वालियर रेलवे स्टेशन विकसित करने की योजना बनाई गई है। ग्वालियर रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंण्.1 के सुनियोजित विकास के लिये स्टेशन बजरिया में हाउसिंग बोर्ड द्वारा बनाई गई दुकानों तथा रेलवे कॉलोनी का पुनर्स्थापन प्रस्तावित है। प्लेटफार्म नंण्.4 की तरफ से गुड्स यार्ड ;माल गोदामद्ध को रायरू स्टेशन के समीप स्थापित किया जा रहा है। बैठक में बताया गया कि आगामी जनवरी माह तक गुड्स यार्ड रायरू पर काम करने लगेगा। गुड्स यार्ड शिफ्ट हो जाने पर प्लेट फार्म नंण्.4 की ओर अतिरिक्त प्लेटफॉर्म बनाए जा सकेंगे।
निर्माणाधीन सभी आरओबी तेजी से पूर्ण करने पर भी केन्द्रीय मंत्री ने विशेष जोर दिया। उन्होंने कहा कि दिसम्बर माह तक पड़ाव आरओबी और शेष आरओबी का निर्माण आगामी मार्च तक पूर्ण करने के प्रयास करें। साथ ही महलगाँव के समीप एवं डबरा में रेलवे लाइन पर अंडरपास ब्रिज का काम भी तेजी से मूर्तरूप देने के निर्देश दिए।
राज्य सरकार से रेलवे के कामों में पूर्ण सहयोग मिलेगा . श्रीमती माया सिंह

विदित हो पड़ाव आरओबी के अलावा नाका चंद्रबदनी से न्यू कलेक्ट्रेट (नीडम) रेलवे फाटक क्रं.-418 (लागत 42 करोड़ 80 लाख), रेसकोर्स रोड़ से तानसेन रोड़ (लागत 35 करोड़ 81 लाख), यादव धर्मकांटा से शताब्दीपुरम के मध्य रेलवे फाटक क्रं.-426 (लागत 20 करोड़ 73 लाख), ट्रिपल आईटीएम मलगढ़ा (भदरौली) मार्ग रेलवे फाटक क्र.-427 (लागत 23 करोड़ 70 लाख) पर आरओबी निर्माणाधीन है।

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने राज्य शासन की ओर से रेलवे के कामों में पूर्ण सहयोग दिलाने की बात कही। साथ ही ग्वालियर में रेल सुविधाओं के विस्तार के लिए उपयोगी सुझाव दिए। रेलवे बोर्ड के चेयरमेन श्री लोहानी ने भरोसा दिलाया कि ग्वालियर में रेलवे के कामों को तेजी से मूर्त रूप दिया जायेगा। इस संबंध में रेलवे के अधिकारियों को स्पष्ट दिशा.निर्देश जारी किए गए हैं। डीआरएम श्री मिश्रा ने बताया कि बिरलानगर रेलवे स्टेशन पर तीन रेलवे प्लेटफार्म बनाए जायेंगे। साथ ही प्लेटफार्म पर शेड व रैंप इत्यादि कार्य भी होंगे। ग्वालियर रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंण्.1ए 2 व 4 पर जल्द ही लिफ्ट लगाई जायेंगीं।
रायरू में निर्माणाधीन गुड्स यार्ड व पड़ाव आरओबी का लिया जायजा
बैठक के बाद केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर, प्रदेश सरकार की मंत्री श्रीमती माया सिंह, रेलवे बोर्ड के चेयरमेन अश्विनी लोहानी व डीआरएम श्री मिश्रा ने रायरू रेलवे स्टेशन के समीप निर्माणाधीन गुड्स यार्ड एवं पड़ाव आरओबी का जायजा लिया। श्री तोमर ने यहाँ के शेष काम जल्द से जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online