मप्र में मानव तस्करी का मामला – चेन्नई पहुंचे 29 बच्चों को भोपाल चाइल्ड लाइन को सौंपा

भोपाल. राजधानी में मानव तस्करी का बड़ा मामला सामने आया है। सोमवार को जीआरपी और हैदराबाद महिला बल विकास की टीम ने तस्करी के जरिए चेन्नई पहुंचे 29 बच्चों को भोपाल चाइल्ड लाइन को सौंपा। हैदराबाद की टीम मध्य प्रदेश के सभी 29 बच्चों को अंडमान एक्सप्रेस से भोपाल आई थी। ये सभी बच्चे बालाघाट जिले से है इनमें 13 लड़कियां और 16 लड़के है सभी बच्चों की उम्र करीब 10 से 16 वर्ष की है और सभी अलग-अलग आश्रय गृह भेजा गया है।
बच्चों को हैदराबाद से मुंबई ले जाया जा रहा था
जानकारी के अनुसार बालाघाट जिले के इन 29 बच्चों को खम्मम जिला बाल संरक्षण अधिकारी और उनकी टीम ने हैदराबाद से रेस्क्यू किया था। चेन्नई की टीम को पता चला था कि बच्चों को हैदराबाद से मुंबई ले जाया जा रहा है। सूचना पर चेन्नई के खम्मम की टीम हैदराबाद पहुंची और बच्चों को रेक्स्यू किया। मुंबई में बच्चों को किसी फैक्ट्री में काम करवाने के लिए भेजा जा रहा था।
मदन नामक ठेकेदार का नाम सामने आया
इस तस्करी में एक मदन नामक ठेकेदार का नाम सामने आ रहा है जो अभिभावकों से बच्चों को लेकर गया था फिलहाल वह फरार है और उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी। बच्चों के पास से कुछ मोबाइल भी जब्त किए गए है। मोबाइल के जरिए बच्चों के अभिभावकों का नंबर मिला था। भोपाल में इन अभिभावकों की काउंसिलिंग की जाएगी इसके बाद बच्चों को उनके घर भेजा जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online