आतंकवाद से मानवता को सबसे ज्यादा खतरा- नरेन्द्र मोदी

ओसाका. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि आतंकवाद आज मानवता के लिए सबसे बड़ा खतरा है। यह सिर्फ मासूमों की जान ही नहीं लेता बल्कि यह आर्थिक विकास और सामाजिक शांति पर भी नकारात्मक प्रभाव डालता है। हमें आतंकवाद की मदद करने वाले सभी माध्यमों को रोकने की जरूरत है। मोदी जी-20 समिट में हिस्सा लेने ओसाका गए है।
जी-20 शिखर सम्मेलन से इतर ब्रिक्स (ब्राजील,रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका) देशों के नेताओं ने मुलाकात की। मोदी ने दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति चुने जाने पर सिरिल रामाफोसा को बधाई दी इस दौरान उन्होंने ब्राजील के राट्रपति चुने जाने पर जायर बोल्सोनरो को भी बधाई दी उन्होंने कहा कि ब्रिक्स परिवार में आपका स्वागत है।
आतंकवाद से लड़ने के लिए साथ काम करने की जरूरत
बैठक में मोदी ने कहा कि विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) को मजबूत करने, संरक्षणवाद से लड़ने, ऊर्जा सुरक्षा सुनिश्चित करने और आतंकवाद से लड़ने के लिए हमें एक साथ काम करने की जरूरत है उन्होंने वैश्विक अर्थव्यवस्था में अस्थिरता, गिरावट और संसाधनों की कमी को लेकर चर्चा की साथ ही कहा कि बुनियादी ढांचे में करीब 1.3 ट्रिलियन डॉलर निवेश (करीब 90 लाख करोड़ रुपए) की कमी आई है इसके साथ ही उन्होंने विकास को स्थाई और सर्वसमावेशी बनाने पर जोर दिया है। मोदी ने कहा कि तेजी से बदलती तकनीक जैसे डिजिटलाइजेशन और जलवायु परिवर्तन मौजूदा और आने वाली पीढि़यों के लिए एक चुनौती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online