मुरार नदी- 8 बीघा जमीन से संपत्ति स्वामियों के अवैघ निर्माण तोड़े गए

ग्वालियर. मुरार नदी के किनारे बिना मंजूरी के किए गए अतिक्रमणों का हटाने की कार्यवाही नगर निगम ने गुरूवार को शुरू कर दी। इस दौरान 8 बीघा जमीन से संपत्ति स्वामियों के अवैघ निर्माण तोड़े गए। याद रहे एक दिन पहले क्षेत्रीय विधायक मुन्नालाल गोयल ने अधिकारियों के साथ निरीक्षण करते समय इन निर्माण कार्यों को तोड़ने के निर्देश दिए थे उसके बाद निगम का अमला आनन-फानन में बिना कोई सूचना दिए कार्यवाही के लिए पहुंच गया। इस कारण यहां रहने वाले परिवार अपना सामान भी पूरी तरह खाली नहीं कर पाए। खास बात यह है कि उस वक्त दोनों ही निर्माण कार्य संपत्ति स्वामियों ने अपनी ही भूमि पर किए थे।
4 कमरे, टीनशेड सहित अन्य कच्चे निर्माण तोडे़
शहीद गेट के पास गुरूवार की सुबह कार्यवाही की शुरूआत की गई यहां पहला निर्माण निगम के पूर्व लेखाधिकारी दिनेश बाथम के परिवार का था। लगभग 6 बीघा जमीन से निगम के अमले ने 4 जेसीबी मशीनों के सहायता से यहां बने 4 कमरे, टीनशेड सहित अन्य कच्चे निर्माण को तोड़ दिया। मकान के मौजूद शील बाथम ने निगम अफसरों को कागज दिखाने का प्रयास किया लेकिन उन्होंने इससे मना कर दिया। इस दौरान उन्होंने अपने भाई दिनेश बाथम को कार्यवाही की सूचना दी। वे जब तक मौके पर आए तब तक मकान टूट चुका था इसके बाद निगम अमले ने पास ही स्थित भागीरथ बाथम की जमीन पर पहुंचे। यहा भी 2 बीघा जमीन पर 4 कमरे और एक टीनशेड बना हुआ था। निगम अमले ने 3 कमरे और एक टीनशेड तोड दिया। दोनों ही संपत्ति स्वामियों की आपत्ति यह थी कि पहले से सूचना होती तो वे अपना सामान निकाल लेते वहीं सहायक सिटी प्लानर महेंद्र अग्रवाल का कहना था कि उक्त सभी निर्माण बिना मंजूरी के किए गए हैं।
50 से ज्यादा अतिक्रमण, अवैध निर्माण, कार्रवाई जारी रहेगी
मुरार नदी से सटी जमीन पर 50 से ज्यादा अतिक्रमण और अवैध निर्माण है इन्हें हटाने की कार्यवाही जारी रहेगी। शुक्रवार को भी सुबह निगम अमला क्षेत्र में कार्यवाही करने जाएगा। क्षेत्र के उपायुक्त एपीएस भदौरिया ने बताया कि शहीद गेट से कार्यवार्ही करते हुए आगे तक जाएंगे। इस दौरान सभी अवैध निर्माण और अतिक्रमणों को हटाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online