पुलिस कंट्रोल रूम में हुई कोचिंग संचालकों की बैठक

ग्वालियर शहर में संचालित शैक्षणिक कोचिंग क्लासों के आस.पास यातायात प्रभावित न होए इसके साथ ही कोचिंग क्लास के आस.पास का माहौल बेहतर बना रहेए यह जवाबदारी कोचिंग संचालकों की है। कलेक्टर अनुराग चौधरी एवं पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने शुक्रवार को पुलिस कंट्रोल रूम में कोचिंग संचालकों की बैठक लेकर उक्त निर्देश दिए हैं। बैठक में सीईओ जिला पंचायत शिवम वर्मा, एएसपी सहित पुलिस के अधिकारी व कोचिंग संचालक उपस्थित थे।
कलेक्टर ने कोचिंग संचालकों से कहा है कि जिन भवनों में कोचिंग संचालित की जा रही हैं, वह सुरक्षित हैं कि नहींए यह सुनिश्चित किया जाए। इसके साथ ही कोचिंग क्लास के पास पर्याप्त वाहन पार्किंग की व्यवस्था सुनिश्चित हो। फायर सेफ्टी के साथ ही सभी कोचिंग संस्थाएं अपने यहाँ सीसीटीव्ही कैमरों के माध्यम से मॉनीटरिंग कराएं।
कलेक्टर ने कोचिंग संचालकों से कहा है कि वे अपने कोचिंग की विधिवत अनुमति लें तथा जिन भवनों में कोचिंग संचालित हो रही हैं, उनका व्यवसायिक पंजीयन भी अनिवार्यत: कराएं। कोचिंग में पढ़ने वाले छात्र.छात्राओं को कोचिंग संचालक अनिवार्यत: परिचय पत्र भी प्रदान करें।
पुलिस अधीक्षक ने भी कोचिंग संचालकों से कहा कि कोचिंग क्लासों में देश का भविष्य तैयार हो रहा है। देश का भविष्य गलत दिशा में न जाए, इसकी जवाबदारी भी कोचिंग संचालकों की है। पुलिस प्रशासन छात्र.छात्राओं की सुरक्षा हेतु सदैव तत्पर है। किसी भी प्रकार की जानकारी मिलने पर स्कूल संचालक पुलिस को सूचित करे। पुलिस द्वारा प्रभावी कार्रवाई की जायेगी। यातायात को व्यवस्थित बनाए रखने में कोचिंग संचालक भी अपनी सकारात्मक भूमिका का निर्वहन करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online