एमएलबी कॉलेज में सामग्री लेने में करनी पड़ी मशक्कत, 1 घंटे तक गेट का ताला नहीं खुला

ग्वालियर. लोकसभा चुनाव के लिए बनाए गए मतदान केन्द्रों पर मतदाता अपने मत का उपयोग करें इससे पहले मतदान केन्द्र एजेंट से लेकर कर्मचारी तक व्यवस्थाएं दुरूस्त करेंगे जिसके लिए सामग्री का वितरण आज शुक्रवार को एमएलबी कॉलेज से शुरू हो गया है। किस कर्मचारी की किस पोलिंग पर ड्यूटी लगाई गई है इसकी जानकारी तो कल शनिवार को मिलेगी लेकिन आज शुक्रवार को मतदान से जुड़ी सामग्री (ईवीएम, वीवीपैट छोडकर) दी जा रही है। मतदान दलों को सामग्री लेने से पहले एमएलबी कॉलेज परिसर में प्रवेश के लिए अच्छी खासी मशक्कत का सामना करना पड़ा। गेट पर ताला लगा होने के कारण सैकड़ों कर्मचारी बाहर इंतजार करते हुए नाराजगी जताते रहे तो कई कर्मचारी की इस परेशानी को देखते हुए मौके पर पहुंचे जिला प्रशासन के अफसरों और पुलिस अधिकारियों ने चौकीदार को बुलाकर ताला खुलवाया तब कहीं जाकर कर्मचारी प्रवेश मिला।
कर्मचारियों को कतारबद्ध तरीके से खड़ा करा दिया
आज शुक्रवार को 1727 मतदान केंद्रों के लिए एमएलबी कॉलेज में सामग्री का वितरण सुबह 8 बजे से किया जाना था और मतदान सामग्री लेने के लिए सुबह 7 बजे से ही कर्मचारी एमएलबी कॉलेज पहुंचना शुरू हो गए और वाहनों को पार्किंग में खड़ा कर जब वह कॉलेज परिसर में अचलेश्वर वाले गेट से प्रवेश के लिए पहुंचे तो गेट पर ताला लगा हुआ था जिसके चलते कर्मचारियों को कतारबद्ध तरीके से खड़ा करा दिया लेकिन जब 1 घंटे तक गेट का ताला नहीं खुला तो कर्मचारियों का सब्र टूटने लगा और वह व्यवस्थाओं को लेकर नाराजगी जताते हुए गेट फांदकर अंदर घुसने लगे। कर्मचारियों के नाराज होने की खबर मिलते ही कॉलेज परिसर में घूम रहे प्रशासनिक अफसरों और पुलिस अधिकारियों ने चाबी की खोजबीन की तो पता चला कि गेट की चाबी चौकीदार पर है और वह नदारद है। एनाउंस करने और चौकीदार को खोजा गया तो वह थीम रोड वाले गेट पर बैठा मिला। चाबी मिलने के बाद गेट खोला गया तब कहीं जाकर कर्मचारी प्रवेश पा सके।
किसकी ड्यूटी कहा कल मिलेगी जानकारी
किस मतदान केन्द्र पर किस कर्मचारी की ड्यूटी है इसकी जानकारी कल एमएलबी कॉलेज से मिलेगी इसके साथ ही 12 मई को होने वाले मतदान दिवास के लिए ईवीएम और वीवीपैट मशीन का वितरण किया जाएगा। कल सुबह से ही मतदान दलों को सामग्री का वितरण शुरू हो जाएगा और वह अपने साथियों के साथ कड़ी सुरक्षा में केंद्रों पर पहुंचेगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online