एसआईटी का गठन, अश्लील वीडियो दिखाकर अश्वनी शर्मा कर चुका है 4 लड़कियों का शरीरिक शोषण

भोपाल/इंदौर/धार. मूक बधिर युवती से ज्यादती व छेड़छाड़ के आरोपी अश्वनी शर्मा की करतूतों की शिकार बनी चौथी युवती का पुलिस को इंतजार है। अब तक सामने आ चुकी तीनों युवतियों ने साइन लेंग्वेज के माध्यम से दिए बयान में एक अन्य युवती का भी शारीरिक शोषण होने की बात पुलिस के सामने आई है।
साइन लेंग्वेज एक्सपर्ट मोनिका पुरोहित ने बताया कि फिलहाल वह चौथी युवती सामने नहीं आई है उसके आने के बाद ही पता चलेगा कि अश्वनी ने उसके साथ किस स्तर तक शरीरिक शोषण किया था यह जरूर है कि आरोपी इन युवतियों को अपने मोबाइल फोन पर अश्लील फिल्में दिखाता था। पूरे मामले का खुलासा इंदौर की 2 मूकबधिर बहनों ने किया था। 2 अगस्त को उन्होंने इसकी जानकारी इंदौर की संस्था को दी थी इसके बाद धार की पीडि़ता को छुड़ाया गया। अश्वनी ने क्रिस्टल आइडल पार्क स्थित 3 डुप्लेक्स किराए पर लिए थे। वर्ष 2016 से वह यहां हॉस्टल संचालित कर रहा था। 3 वर्ष में इन हॉस्टल में 21 लड़कियां रह चुकी हैं और अब तक 3 युवतियों ने उसके खिलाफ बयान दिया है पुलिस बाकी 18 युवतियों को भी तलाश रही है।
एसआईटी का गठन
एसआईटी में 2 एएसपी, 2 सीएसपी, 2 टीआई और महिला एसआई शामिल
एसपी साउथ राहुल लोढा का कहना है कि यह पता लगाना अभी बाकी है कि कहीं आरोपी ने और भी कई युवतियों के साथ अश्लील हरकत ज्यादती तो नहीं की है, गुरूवार को यह मामला सामने आने के बाद आइजी जयदीप प्रसाद और डीआईजी धर्मेंद्र चौधरी क्रिस्टल आईडल पार्क सिटी स्थित अश्वनी के हॉस्टल पहुंचे थे। डीआईजी ने इस मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है। एसपी साउथ के नेतृत्व में 2 एएसपी, 2 सीएसपी, 2 टीआई और महिला एसआई शामिल किए गए हैं। अवधपुरी पुलिस ने अश्वनी को शुक्रवार की दोपहर अदालत में पेश किया। पूछताछ का हवाला देते हुए पुलिस ने अश्वनी को सोमवार तक रिमांड पर लिया है। आईजी का कहना है कि इस मामले में जल्द से जल्द जांच पूरी कर चालान पेश कर दिया जाएगा।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*