आदिवासी बालिका गृह की घटना ने प्रदेश को एक बार फिर शर्मसार किया – कमलनाथ

भोपालए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा है कि मध्यप्रदेश , देश में पहले ही दुष्कर्म के मामले में शीर्ष पर है। बिहार के मुजफ्फरपुर और यूपी के देवरिया की घटना के बाद अब भोपाल के बालिकागृह में आदिवासी बच्चियों के साथ घटित, जो घटना सामने आयीए, उसने प्रदेश को एक बार फिर देश में शर्मसार कर दिया है।
श्री नाथ ने कहा कि शिवराजसिंह यह कैसा समृद्ध प्रदेश बना रहे हैं, जहां बहन.बेटियां घर, बाहर, स्कूल, बालिका गृह, कार्यस्थल, अस्पताल, कहीं भी सुरक्षित नहीं हैं। एक तरफ तो बहन.बेटियों के साथ प्रतिदिन ऐसी घृणित घटनाएँ घटित हो रही हैं और दूसरी ओर प्रदेश के बेखबर मुख्यमंत्री जनआशीर्वाद यात्राओं में बड़ी.बड़ी डींगे हाकने में और नृत्य करने में व्यस्त हैं।
कमलनाथ ने मांग की है कि सरकार अविलंब प्रदेश के सारे बालिकागृह और छात्रावासों की सूक्ष्मता से जांच कराये। वहां पढ़ने, रहने वाली बच्चियों से महिला अधिकारी जाकर संपर्क करें। उन्होंने कहा कि भोपाल की घटना तो बच्चियों के सामने आने से सामने आयी है। यदि सभी बालिका गृहों व छात्रावासों की सूक्ष्मता से जांच करवायी जाये तो ऐसी कई घटनाऐं सामने आ सकती हैं।
श्री नाथ ने कहा कि भोपाल की घटना के आरोपी को भाजपा नेताओं के राजनैतिक संरक्षण प्राप्त होने की बात भी सामने आ रही हैं, इसका भी खुलासा होना चाहिए। इसलिये इस पूरे मामले को निष्पक्ष जाँच के लिये सीबीआई को सौंपे शिवराज सरकार। शिवराजसिंह जनआशीर्वाद यात्रा में बड़े.बड़े दावे कर रहे हैं। लेकिन मैं फिर शिवराजसिंह से सवाल करता हूं कि वे प्रदेश के ऐसे 5 स्थल बतायें, जहां उनके राज में, बहन.बेटियों के लिये सुरक्षित माहौल उपलब्ध हो।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*