करूणानिधि में अन्नादुरई की समाधि के पास राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

चेन्नई. 5 बार तमिलनाडु के सीएम और 50 वर्ष द्रमुक के अध्यक्ष रहे एम करूणानिधि (94 साल) को मरीना बीच पर उनके राजनीतिक गुरू सीएन अन्नादुरई की समाधि के पास दफनाया गया। अन्ना मेमोरियल पर बुधवार की शाम उन्हें राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। करूणानिधि ने मंगलवार शाम को कावेरी अस्पताल में अंतिम सांस ली थी उनके पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शन के लिए राजाजी हॉल में रखा गया।
पीएम नरेंद्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सहित कई नेता श्रद्धांजलि देने पहुंचे। राजाजी हॉल के बाहर हजारों समर्थक मौजूद थे। भगदड़ में 2 लोगों की मौत हो गई और 33 घायल हो गए।
अन्ना मेमोरियल पर पुड्डीचेरी के सीएम वी नारायण सामी, जेडीएस प्रमुख एचडी देवेगौड़ा, तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित, केद्रीयमंत्री रामदास अठाबले ने करूणानिधि को पुष्प अर्पित किए। आर्मी, नेवी और वायुसेना के जवानों ने करूणानिधि को सलामी दी इसके बाद पार्थिव शरीर से राष्ट्रध्वज को हटाकर लपेटा गया और इसे बेटे स्टालिन को सौंपा गया। बेटे अलागिरी, बेटी कनिमोझी सहित परिवार के लोगों ने श्रद्धांजलि दी। करूणानिधि के पार्थिव शरीर को ताबूत के अंदर कब्र में रखा गया।
पिता की तरह थे करूणानिधि-सोनिया 
संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बुधवार को द्रमुक चीफ करूणानिधि के निधन पर दुख जाहिर किया। सोनिया ने कहा करूणानिधि मेरे पिता की तरह थे उन्होंने हमेशा मुझे स्नेह और महत्व दिया। मेरे लिए कलैगनार का जाना निजी क्षति है उन्होंने हमेशा मुझे स्नेह दिया जिसे मैं कभी भूल नहीं सकती। मोदी ने कहा चेन्नई में मैंने असाधारण नेता को श्रद्धांजलि दी।
एक व्यक्ति जिसने अथक कार्य किए, अब वह आराम कर रहा है-ताबूत पर लिखा,
तमिलनाडु के सीएम पलानीसामी करूणानिधि को श्रद्धांजलि देने राजाजी हॉल पहुंचे उन्होंने कहा कि उनके करूणानिधि जाने से राज्य को बहुत बड़ा नुकसान हुआ। इस दौरान द्रमुक समर्थकों ने पलानीसामी के खिलाफ नारेबाजी की इसके अलावा सुपरस्टार रजनीकांत, कमल हासन, आंध्र के सीएम चंद्रबाबू नायडू, केरल के सीएम पिनरई विजयन, तेलंगाना के सीएम केसीआर, तृणमूल सांसद डेरेक ओ ब्रायन, जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला, राकांपा प्रमुख शरद पवार, राजद नेता तेजस्वी यादव, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और कांग्रेस नेता प्रफुल्ल पटेल ने करूणानिधि को श्रद्धांजलि दी। करूणानिधि के ताबूत पर संदेश लिखा गया, एक व्यक्ति जिसने जीवनभर बिना रूके काम किया, वह अब आराम कर रहा है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*