वृद्ध दम्पति से 90 लाख की लूट में 59 वर्षीय मां ने दिया बेटे का साथ

अहमदाबाद. वृद्ध दम्पति से 90 लाख की लूट में बेटे की सहायता मां ने की इन दोनों के अलावा एक अन्य युवक भी इस लूट में शामिल था। क्राइम ब्रांच ने इनसे 11.48 लाख का माल बरामद कर लिया है। चंदखेड़ा में देवप्रिया बंगलो में रहने राकेश बलवानी के पिता पारसभाई और विकलांग मां 25 जुलाई को घर में अकेले थे। तभी उनके घर एक अनजान व्यक्ति घर के अंदर घुस गया उसने पारसभाई को पकड़कर कुर्सी से बांध दिया। व्हील चेयर पर बैठी उनकी पत्नी को भी उसी कुर्सी से बांध दिया। इसके बाद रेनकोट पहने एक व्यक्ति और बुर्का पहने एक महिला आई उसके बाद सब ने मिलकर वृद्ध दम्पति को धमकी दी कि घर में जो कुछ है वह दे दो उस समय घर पर करीब 90 लाख रुपए थे जो पारसभाई के बेटे मुकेश भाई के थे मुकेश दुबई से इलाज के लिए आया था। उसी के लिए बैंक से राशि निकाली गई थी। एक व्यक्ति घर के ऊपरी कमरे में जाकर 90 लाख रुपए से भरा बेग ले आया उसके बाद पारसभाई की पत्नी ने हाथ में जो सोने की चूडि़यां पहनी थी उसे भी महिला ने निकाल लिए इसके बाद तीनों वहां से फरार हो गए। क्राइम ब्रांच के पीआई वीआर मल्होत्रा को मिली गोपनीय सूचना के आधार पर टीम ने चंादखेड़ा सांई बाबा चौराहे से पवन रामदासाणी, उसकी मां आशाबेन और पवन के दोस्त विक्रम राजपूत को अरेस्ट कर लिया।
कर्ज होने के कारण लूट की योजना बनाई
लूट के आरोपी पवन पर काफी कर्ज हो गया था उसकी पत्नी सिमरन का परिचय राकेश बलवानी की पत्नी जाह्नवी से था उससे बातचीत में पता चला कि जाह्नवी का देवर मुकेश दुबई से इलाज के लिए आया हुआ है इसलिए उनके घर में काफी माल है यह जानकर पवन ने लूट की योजना बनाई इसके लिए उसने अपनी मां आशा बेन और दोस्त विक्रम को तैयार किया।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*