अनुच्छेद 35ए के केस में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई कल, अलगाववादियों का बंद, अमरनाथ यात्रा रोकी गई

श्रीनगर. सुप्रीम कोर्ट अनुच्छेद 35ए की वैधता को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर सोमवार से सुनवाई शुरू करेगा। इसके विरोध में अलगाववादी संगठनों ने रविवार को 2 दिन का बंद बुलाया। कश्मीर घाटी के रामबन, डोडा और किश्तवाड़ जिले में बंद का असर देखने को मिला। प्रशासन ने एहतियातन अमरनाथ यात्रियों को भगवती बेस कैंप में रोक दिया। जम्मू से श्रीनगर हाईवे पर स्पेशल चेक पोस्ट बनाए गए।
अलगाववादी संगठनों के अलावा नेशनल कॉन्फ्रेंस, पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी, माकपा और कांग्रेस अनुच्छेद 35ए में कोई बदलाव नहीं चाहती हैं। याचिकाओं पर रोक लगाने के लिए राज्य सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर किया था। अनुच्छेद 35ए के तहत जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा प्राप्त है और दूसरे राज्यों के नागरिक वहां मकान या जमीन नहीं खरीद सकते हैं।
माकपा ने भाजपा और संघ पर आरोप लगाए
माकपा के क्षेत्रीय सचिव श्याम प्रसाद केसर ने कहा कि भाजपा और संघ राज्य की विशेष पहचान को कमजोर करना चाहते हैं। कानून में बदलाव के निराशाजनक परिणाम सामने आएंगे। राष्ट्रहित के लिए केंद्र सरकार सुप्रीम कोर्ट में मजबूत हलफनामा दायर करे ताकि अनुच्छेद 35ए का बचाव किया जा सके।
अमरनाथ यात्रा रोकी गई
घाटी के कई जिलों में प्रदर्शन के चलते अमरनाथ यात्रा रोक लगाई। श्रद्धालुओं को भगवती नगर यात्रा निवास में ठहरने के लिए कहा गया। उधमपुर और रामबन जिले में जम्मू से श्रीनगर हाईवे पर स्पेशल चेक पोस्ट बनाए गए हैं। हालांकि बालटाल और पहलगाम स्थित कैंप में रूके श्रद्धालु दर्शन के लिए अमरनाथ गुफा की ओर जा सकते हैं। 28 जून से अब तक 2.71 लाख श्रद्धालु बाबा बर्फानी के दर्शन कर चुके हैं। यात्रा रक्षाबंधन के दिए 26 अगस्त को खत्म होगी।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*